Sahara India pariwar: सहारा इंडिया परिवार को लेकर आई बहुत बड़ी खबर

सहारा इंडिया परिवार के चार सहकारी समितियां में देश के करोड़ों निवेशकों के पैसे फंसे हुए हैं जिन पैसे को रिफंड करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से सहारा रिफंड पोर्टल लॉन्च की गई थी जिसके तहत रिफंड की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। Sahara India Pariwar रिफंड पोर्टल के जरिए जिन्होंने घर बैठे बैठे रिफंड लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाएं थे उन्हें पहले चरण में ₹10000 तक रिफंड की जा रही है। केंद्र सरकार के द्वारा 5000 करोड रुपए सहारा के निवेशकों को रिफंड के रूप में वापस लौट आए जाएंगे।

ऐसे में अगर आपका पैसा भी सहारा इंडिया के किसी भी फंड में फंसा हुआ है और आप रिफंड लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाएं हैं तो आपके लिए जानकारी काफी महत्वपूर्ण साबित हो सकता है तो चलिए जानते हैं कि सहारा रिफंड पोर्टल कैसे काम करता है?, क्या इसका पूरा प्लान है और रिफंड किस प्रक्रिया से निवेशकों को मिलेगी इससे संबंधित जानकारी विस्तार से।

Read more:Sahara India status money : सहारा इंडिया ग्राहकों के लिए बहुत बड़ी खबर आज से हो गई सहारा इंडिया के रखो को पैसा मिलना शुरू

Sahara India Pariwar News

सहारा इंडिया के विभिन्न फंड में जिन निवेशकों ने निवेश किया था और उनका मेच्योरिटी पीरियड पूरा होने के बाद रिफंड नहीं मिल पा रहा है था उनको रिफंड करने के लिए केंद्र सरकार सीआरसीएस सहारा रिफंड पोर्टल की शुरुआत की थी जिसके जरिए सरकार 5000 करोड रुपए 45 दिवस के भीतर ट्रांसफर करेगी। आपको बता दे कि सहारा इंडिया के विभिन्न फंड सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड सहारा यूनिवर्सल मल्टीपरपज सोसायटी लिमिटेड सहारा इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड एवं स्टार्स मल्टी परपज कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड में देश के करीब कोने-कोने के लाखों निवेशकों के 1.12 लाख करोड रुपए फंसे हुए हैं जिन पैसे को रिफंड करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा सहारा रिफंड पोर्टल की शुरुआत कर दी गई है जिसके तहत अभी रिफंड की प्रक्रिया शुरू करके प्रत्येक एलिजिबल निवेशकों को ₹10000 तक वापस की जा रही है।

सहारा रिफंड पोर्टल पर रिफंड की प्रक्रिया के लिए सरकार नए सिरे से रोडमैप तैयार करके रिफंड की प्रक्रिया शुरू कर दी है एवं जल्द ही सभी एलिजिबल निवेशक को रिफंड कर दी जाएगी। इसके लिए सरकार कर से निवेश को का रजिस्ट्रेशन की वेरिफिकेशन कर रही है एवं रिफंड के लिए एलिजिबल निवेशक के बैंक खाते में पहले चरण में ₹10000 तक ट्रांसफर किए जा रही है। रिफंड के लिए एलिजिबल निवेश को एसएमएस के जरिए सूचित करके सरकार उनके बैंक खाते में 30 से 45 दिवस के भीतर रिफंड का अमाउंट क्रेडिट कर रही है।

सहारा इंडिया के करोड़ों निवेशकों को मिलेंगे रिफंड

सहारा इंडिया के विभिन्न फंडों में देश के करोड़ों निवेशक अपनी गाढ़ी कमाई को लगाए थे जिसको रिफंड पाने के लिए लोग डर-डर की ठोकरे खा रहे थे जिसके बाद सरकार के द्वारा सहारा रिफंड पोर्टल शुरुआत की गई है जिस पोर्टल के जरिए पहले चरण में निवेशकों को ₹10000 तक दी जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो सहारा ग्रुप में देश के करीब 26 राज्यों के 2.76 करोड़ छोटे निवेशकों के 80000 करोड रुपए लगे हुए हैं। ऐसे में सरकार के द्वारा अगर इन निवेशकों को पहले चरण में ₹10000 तक रिफंड की जाती है तो सरकार को लगभग 27 करोड रुपए चाहिए। ऐसे में सरकार के द्वारा धीरे-धीरे करके सभी निवेशकों के पैसे वापस की जा रही है। सहारा में करीब 1.12 लाख करोड रुपए फंसे हुए हैं ऐसे में सरकार जल्द ही इस पर कोई उचित कदम उठाकर सभी निवेशकों को उचित समय पर रिफंड कर देगी।

 

Leave a Comment

यहां पर क्लिक करके जानें